Pradhan Mantri Solar panel yojna 2022: ऐसे करे आवेदन !कुसुम योजना आवेदन2022

प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना 2022 अप्लाई । प्रधान मंत्री सोलर पैनल फ्री रजिस्ट्रेशन वैबसाइट । फ्री सोलर पैनल रजिस्ट्रेशन। Pradhanmantri solar panal yojna.

प्रधान मंत्री सोलर पैनल योजना 2022

प्रधानमंत्री जी इस योजना की सुरुवात 1 फरवरी 2020 को की थीं इस योजना के माध्यम से सरकार देश के गरीब किसानो को जिनकी संख्या लगभग 20 लाख के आस पास है उन्हे लाभ पहुचएगी ।केंद्र सरकार इस योजना के माध्यम से किसानो को सबसिडी के रूप मे प्रोजेक्ट की कुल लागत का 60% हिस्सा किसानो को देगी । इस योजना को मंत्रिपरिषद मे 2020 मे पारित किया गया था । योजना पर विचार करते हुये वित्तमंत्री ने ये कहा था की गरीब किसानो की वित्तीए लागत खेती मे बोई गयी फसल से ज्यादा हो जाती है इसलिए सरकार ने सोलर पैनल योजना की सुरुवात की ।

प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना का उदेस्य

प्रधामन्त्री भारत सरकार द्वारा चलायी गयी सोलर पैनल योजना का लाभ किसान भाई दो तरह से ले सकते है ।इस योजना का लाभ उठाकर हमारे देश के किसान भाई आत्मनिर्भर बनेंगे । इस योजना के माध्यम से किसान अपने खेतो मे सोलर पैनल लगाकर उसकी ऊर्जा को बेंच सकता है सरकार 30 पैसे प्रति यूनिट के हिसाब से ऊर्जा खरीदेगी । और किसानो को उसके बदले पैसा देगी । यह प्लांट 1 साल मे 1 मेगावाट का प्लांट 110000 लाख यूनिट ऊर्जा प्रदान करेगा । दूसरा लाभ किसान का पम्प सोलर पैनल से ही चलेगा जिससे उसके खेत की सिचाई भी फ्री मे हो जाएगी । और एक अपार धन की बचत होगी।

प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना की विशेषताएं

  • प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना के तहत बंजर भूमि पर 10000 मेगावाट सौर संयंत्र बनाने और 1.75 मिलियन ऑफ ग्रेट कृषि सोलर पंप प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत 10 साल की अवधि के लिए केंद्र सरकार द्वारा 48000 करोड रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।
  • इस योजना के तहत विकेंद्रीकृत और उर्जा उत्पादन को बढ़ावा दिया जाएगा।
  • DISCOMS के प्रसारण घाटे को कम करना तथा कृषि क्षेत्र में सब्सिडी के बोझ को कम करके DISCOMS के वित्तीय स्वास्थ्य को बेहतर बनाना ‌
  • इस योजना के तहत ऊर्जा प्लांट के नीचे चार्ट बनाकर सब्जी व छोटी फसलों की खेती भी हो सकती है।

सोलर पैनल योजना का वजट

सरकार ने सभी किसानो को सोलर पैनल योजना का लाभ देने के तहत किसानो को 48000 करोड़ रुपये आवंटित किया है इस योजना के तहत 100000 मेगाबाइट के सर यंत्र स्थापित किए जाएंगे । जिस जगह पर बंजर भूमि है जह्न खेती करना इतना आसान नहीं है वहाँ पर सोलर प्लांट लगाए जाएंगे जिसके तहत एक उपजाऊ खेती हो सकेगीप्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना से लाभ

  • प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना से सोलर सिचाई पम्प उपलब्ध हो जाने से पेट्रोल और डीजल खरीदने से मुक्ति मिल जाएगी ।
  • किसान भाई लोग जितनी बिजली अपने लिए उपयोग करेंगे उसके लावा जो बिजली बचेगी उसे सरकार को .30 पैसे प्रति यूनिट के हिसाब से सरकार को बेंच सकेंगे ।
  • इसके अलावा सरकार की तरफ से पम्प लगाए जाने पर मतलब जो किसान अपनी जमीन पर इसे लगेगा उसे सरकार अतिरिक्त आय प्रदान करेगी।
  • इस योजना से प्रतिमाह 6000 रुपए तक ट्रान्सफर किए जाएंगे ।
  • सोलर प्लांट से किसान आसानी से अपने खेत के साथ साथ दूसरे का खेत सींच कर अतिरिक्त कमाई कर सकते है ।

Pradhan Mantri Solar Painal Yojna Overview

स्कीम का नाम प्रधान मंत्री सोलर पैनल योजना
किसके द्वारा जारी की गयी भारत सरकार
विभाग मिनिस्टरी ऑफ न्यू एंड रेनेवल एनर्जी
अनुमानित राशि 10000 करोड़
लाभ लेने वाला भारत देश के किसान
स्कीम का समय 10 साल
आधिकारिक वेबसाइट http://mnre.gov.in/
स्टेटस एक्टिव
टोल फ्री / हेल्पलाइन नंबर 1800-180-3333/011-2436-0707,011-2436-0404
प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना मे लगने वाले दस्तावेज़

प्रधानमंत्री सोलर योजना मे पंजीकरण कैसे करे

अगर आप आवेदन करना चाहते है तब आप इसकी आधिकारिक वैबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते है – जिसके लिए आपको निम्न लिखित प्रक्रिया अपनानी होगी । पहले आप इसीसे संबन्धित वैबसाइट पर जाकर यहाँ पर दी गयी सारी पात्रता और जानकारी को ध्यान से पढे । फिर सरकार द्वारा निर्धारित नियमों का पालन करकर इस योजना से लाभ लेने वाले सभी नियमो को पूरा करे ।भारत सरकार से अधिकृत नोडल एजेंसियों ने इस योजना को लागू किया है जिसके लिए जल्द ही कोई न कोई दिशनिर्देश जारी किया जाएगा ।

कुसुम योजना का उद्देश्य

योजना का मुख्य उद्देश्य देश के किसानों को सिंचाई के लिए सौर ऊर्जा से चलने वाले पंप को मुहैया कराना है। यदि किसानों के पास सौर ऊर्जा से चलने वाले पंप होंगे तो उन्हें डीजल या पेट्रोल से चलने वाले पंपों का इस्तेमाल नहीं करना पड़ेगा। जिससे पैसों की बचत होगी और उनकी आर्थिक स्थिति में भी सुधार आएगा। इसी के साथ सरकार पावर ग्रिड भी प्रदान करेगी जिससे बिजली बचाकर किसान सीधे बिजली सरकार को बेच सकते हैं।इससे किसानों की आमदनी में भी वृद्धि होगी।

सोलर पंप लगाने हेतु वित्तीय संसाधनों का अनुमान

किसान द्वारा प्रोजेक्ट लगाया जाएगा तब

सौर ऊर्जा संयंत्र का भार 1 मेगावाट
अनुमानित लागत 3.5 से 4.00 करोड़ रुपए प्रति मेगावाट
अनुमानित वार्षिक उत्पादन 17 लाख यूनिट
अनुमानित विजली ₹3.14 प्रति यूनिट
कुल अनुमानित वार्षिक आय ₹5300000
अनुमानित वार्षिक खर्च ₹500000
अनुमानित वार्षिक लाभ ₹4800000
25 वर्ष की अवधि में कुल अनुमानित आय 12 करोड़ रुपया

किसान द्वारा भूमि लीज मैं देने पर

1 मेगावाट हेतु भूमि की आवश्यकता 2 हेक्टेयर
प्रति मेगावाट विद्युत उत्पादन 17 लाख यूनिट
अनुमति लीज रेंट 1.70 लाख से 3.40 लाख

कुसुम योजना आवेदन शुल्क

सरकार द्वारा जारी की गयी इस योजना के अंतर्गत आवेदक को सौर ऊर्जा संयंत्र के लिए आवेदन करने के लिए ₹5000 प्रति मेगावाट तथा जीएसटी की दर से आवेदन शुल्क का भुगतान करना होगा। यह भुगतान प्रबंध निर्देशक राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम के नाम से डिमांड ड्राफ्ट के रूप में किया जाएगा। आवेदन करने के लिए 0.5 मेगावाट से लेकर 2 मेगावाट तक के लिए आवेदन शुल्क इस प्रकार से सरकार को देना होगा ।

मेगा वाट आवेदन शुल्क
0.5 मेगावाट ₹ 2500+ जीएसटी
1 मेगावाट ₹5000 + जीएसटी
1.5 मेगावाट ₹7500+ जीएसटी
2 मेगावाट ₹10000+ जीएसटी

संपर्क सूत्र:

अगर आप इस फ्री सोलर पैनल योजना 2022 से रजिस्ट्रेशन फॉर्म से संबन्धित किसी भी समस्या का समाधान या किसी भी प्रकार की जानकारी लेना चाहते है तब आप निम्न लिखित पते के माध्यम से संपर्क कर सकते है ।
नव एवं नवनी ऊर्जा मंत्रालय, ब्लॉक -14 ,CGO COMPLEX
लोधी रोड , नयी दिल्ली -110003, भारत ,
,011-240404404
निष्कर्स

इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपलोगो को ,प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना 2022 अप्लाई । प्रधान मंत्री सोलर पैनल फ्री रजिस्ट्रेशन वैबसाइट । फ्री सोलर पैनल रजिस्ट्रेशन। Pradhanmantri solar painal yojna 2022 की जानकारी दी है हमारा प्रयास ये था की आपकी सहायता हो सके । धन्यवाद ।

2 thoughts on “Pradhan Mantri Solar panel yojna 2022: ऐसे करे आवेदन !कुसुम योजना आवेदन2022”

Leave a Comment